Latest News

सोमवार, 16 मई 2016

शाहजहाँपुर - पत्रकार राजू मिश्रा को शहीद पत्रकार जोगेन्‍द्र सिंह के खिलाफ बयान देने के लिए किया जा रहा है मजबूर

शाहजहाँपुर 16 मई (ब्यूरो कार्यालय). विगत 1 जून 2015 को राज्यमंत्री राम मूर्ति सिंह वर्मा के इशारे पर चौक कोतवाल प्रकाश राय ने पुलिस तथा मंत्री के गुर्गों के साथ दबिश मार कर पत्रकार जागेन्द्र सिंह को कथित रूप से ज़िंदा जला दिया था। अब सूचना है कि राज्य मंत्री राम मूर्ति सिंह वर्मा जिला पंचायत सदस्य विजेंद्र सिंह यादव  द्वारा जोगेन्द्र सिंह के साथी पत्रकार राजू मिश्रा पर दबाव बना रहे हैं कि गवाही में कहो कि जागेन्द्र सिंह के हाथ में तमंचा था।

सूत्रों के अनुसार यदि राजू मिश्रा ये गवाही दे देंगे कि जोगेन्द्र सिंह के हाथ में तमंचा था और उन्होंने फायर किया था तो इससे सिद्ध हो जाएगा कि जो एफआईआर लिखवाई गयी थी वह सही थी और उसमें मंत्री का कोई हाथ नहीं था। विदित हो कि शहीद पत्रकार जोगेन्द्र सिंह राज्यमंत्री राम मूर्ति सिंह वर्मा के अवैध कारनामों की पोल खोलते रहते थे। आरोपों के अनुसार इसी बात से नाराज होकर राज्य मंत्री राम मूर्ति सिंह वर्मा ने चौक कोतवाल के द्वारा जागेन्द्र सिंह, राजू मिश्रा तथा विनोद पाल पर अपहरण तथा हत्या के प्रयास का मुकद्दमा दर्ज करवा दिया था। इस एफआईआर में बताया गया था कि जोगेन्द्र सिंह के हाथ में तमंचा था जिससे फायर करने की कोशिश की गयी थी। यदि उपरोक्‍त गवाही दी गयी तो एक साल से निलंबित चल रहे कोतवाल तथा अन्य पुलिस कर्मी भी बहाल हो जायेंगे तथा राज्य मंत्री महोदय साफ़ बच जायेंगे।

जब इस प्रकार की गवाही देने से राजू मिश्रा ने मना कर दिया तो राजू मिश्रा को धमकाया गया लेकिन राजू मिश्रा जब किसी के दबाब में नहीं आये तो राज्य मंत्री ने अपने गुर्गो से राजू मिश्रा को किसी भी मामले में फंसाने के लिए बोल दिया। इसी बीच राज्य मंत्री राम मूर्ति सिंह वर्मा के ख़ास जिला पंचायत सदस्य विजेंद्र सिंह यादव ने भूलभुलागंज के गरीब किसानों का आलू अपने पुत्र की आढ़त पर मंगवाया था और आलू की बिक्री करके किसानों का रुपया हड़प कर लिया था। गरीब किसान मुख्यमंत्री से लेकर जिला के सभी अधिकारियों के पास न्याय की गुहार लगा चुके थे लेकिन उनकी कहीं पर सुनवाई नहीं हुई थी। भुलभुलागंज के किसान जलालाबाद में रहने वाले सुनामी लहर समाचार पत्र के जिला संवाददाता अनुराग मिश्रा उर्फ़ राजू मिश्रा से मिले तो राजू मिश्रा ने किसानों की समस्या को प्रमुखता से अपने समाचार पत्र में छापा तथा नए जिलाधिकारी विजय किरण आनंद की अध्यक्षता में जलालाबाद में आयोजित तहसील दिवस पर किसानों ने अपनी समस्या की शिकायत की।

किसानों की समस्या को सुनकर जिलाधिकारी ने एसडीएम वंदना त्रिवेदी को किसानों के प्रकरण की जाँच सौपी, जांच में सत्यता पाए जाने पर जिलाधिकारी के आदेश पर मंडी सचिव की तरफ से सपा नेता विजेंद्र सिंह यादव के पुत्र के खिलाफ चार सौ बीसी तथा गबन का मुकद्दमा दर्ज करवा दिया गया। यहीं से राज्य मंत्री राम मूर्ति सिंह वर्मा को मौक़ा मिल गया और उन्होंने विजेंद्र सिंह यादव से पत्रकार राजू मिश्रा को फंसाने के लिए कहा, विजेंद्र सिंह यादव ने कोतवाल राजीव मिश्रा से सांठ गांठ करके राजू मिश्रा के खिलाफ खुद से पचास हजार रुपया रंगदारी मांगने तथा आईटी एक्ट का मुकद्दमा दर्ज करवा दिया और कहा कि अभी भी मंत्री के पक्ष में तथा जागेन्द्र के विरोध में गवाही दे दो कि जागेन्द्र सिंह के हाथ में तमंचा था और उन्होंने फायर किया था। पर इसके बावजूद जब राजू मिश्रा ने बात नहीं मानी तो उन्होंने एक अन्‍य कोटेदार से दूसरा रंगदारी मांगने का मुकद्दमा दर्ज करवा दिया तथा धमकी दिलवाई कि जो हाल जागेन्द्र सिंह का हुआ है वही हाल तुम्हारा भी होगा।

पीड़ित पत्रकार राजू मिश्रा का मोबाइल नंबर - 8303238854 है। 

Advertisement

Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision