Latest News

सोमवार, 18 अप्रैल 2016

हंदवाड़ा मामला - पीडि़ता ने सेना को फिर दी क्लीन चिट, कश्मीर में इंटरनेट बहाल

नई दिल्‍ली, 18 अप्रैल 2016 (IMNB). जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में छेड़छाड़ की पीडि़त लड़की ने एक बार फिर सेना को क्लीन चिट देते हुए कहा है कि उसे दो लड़कों ने छेड़ा था, जिसमें से एक लड़का स्कूल ड्रेस पहने हुए था। वहीं, दूसरी ओर कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं फिर से बहालकर दी गई हैं।

एक अंग्रेजी समाचार पत्र में छपी खबर के अनुसार, राज्य पुलिस ने बताया कि हाईकोर्ट के आदेश पर पीडि़त लड़की को शनिवार शाम को हंदवाड़ा में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया। उनके समक्ष वह अपने बयान पर कायम रही और कहा कि सेना के जवान ने उससे छेड़खानी नहीं की है। गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले उसकी मां ने कहा था कि उसके ऊपर दबाव डाला जा रहा है कि वह ऐसा बयान दे कि सेना के जवान ने उससे छेड़छाड़ नहीं किया। लड़की से छेड़छाड़ के मामले को लेकर राज्य में हिंसक प्रदर्शन हुए थे, जिसमें कम से कम पांच प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई थी। प्रशासन ने हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी थी। 

पुलिस बयान के अनुसार, पीडि़त लड़की को हंदवाड़ा के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया। उसके बयान दर्ज किए गए। वह अपने पिता के साथ वहां आई थी। पुलिस ने उसके बयान को साझा करते हुए कहा कि उसने बताया है कि 12 अप्रैल 2016 को वह अपनी सहेली के साथ स्कूल से घर लौट रही थी, उस दौरान वह हंदवाड़ा के मुख्य चौक पर स्थित सार्वजनिक शौचालय में गई। जैसे ही वह बाहर आई तभी दो लड़के वहां आ गए और उसे खींचने लगे। उन दोनों ने उसकी बैग छीन ली। दोनों में से एक लड़के ने स्कूल ड्रेस पहन रखी थी।लड़की की मां ने शनिवार को आरोप लगाया था कि कुछ सेना के जवानों ने उसकी बेटी से छेड़छाड़ की कोशिश की थी। उसने यह भी कहा था कि जो उसकी बेटी के बयान वाला वीडियो जारी किया गया है, उसे दबाव में बनाया गया है।

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision