Latest News

सोमवार, 7 मार्च 2016

कानपुर - बजरंग दल कार्यकर्ता नरेश तोमर को पुलिस ने छोड़ा, हुआ भव्‍य स्‍वागत

कानपुर 6 मार्च 2016 (महेश प्रताप सिंह). कल धर्मान्तरण कराने के आरोप में बजरंग दल के नरेश तोमर को उरई की पुलिस अरेस्‍ट कर ले गई थी जिसके विरोध मे कल बजरंगीयों ने पनकी थाने का घेराव किया था और रात में ही जितेन्द्र गांधी के नेतृत्‍व में ४०-५० लोग उरई को रवाना हो गये थे।इसके बाद बजरंगी नरेश को पुलिस ने छोड दिया।

संघ व भाजपा और बजरंग दल  के लोगों ने उरई कप्तान से बात की, सासंद देवेन्द्र सिंह भोले जी के बात करने के बाद नरेश को पुलिस ने छोड दिया था। बताते चलें कि गंगागंज भाग-1 पनकी निवासी सुमन सिंह तोमर के बेटे नरेश तोमर बजरंग दल के सह संयोजक हैं। शनिवार को उरई के एसओजी प्रभारी आलोक सक्सेना फोर्स के साथ आये और पनकी मंदिर चौकी प्रभारी उमेश कुमार के साथ पूरी टीम नरेश तोमर के घर पहुँच कर उससे पूछताछ करने लगी, साथ ही घर की तलाशी भी ली। लेकिन कुछ न मिलने पर उसे थाने ले आये। बाद में इनोवा में बैठाकर उसे लेकर कहीं चले गए।

इसकी जानकारी बजरंग दल के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को मिली तो बजरंग दल कार्यकर्ता प्रांत संयोजक कुशल पाल, महानगर संयोजक आशीष त्रिपाठी के नेतृत्व में पनकी थाने का घेराव किया। बजरंगियों ने उनके पदाधिकारी को जबरन उठा ले जाने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया था। आज कानपुर आने पर महानगर संयोजक आशीष  ञिपाठी ने सैकडों कार्यकर्ताओं  के साथ भाटिया चौराहे पर नरेश तोमर का भव्य स्वागत किया , स्वागत करने में अजय कुशवाहा, रामजी मिश्रा, आशीष गुप्ता, इन्दल शर्मा, कृष्णा तिवारी, प्रदीप अग्निहोञी, राकेश सिंह, कालीचरण, सर्वेश्वर सोनकर, आशीष शर्मा आदि सैकडों कार्यकर्ता शामिल रहे।

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision