Latest News

सोमवार, 19 अक्तूबर 2015

शिवसेना के विरोध के बाद बीसीसीआई और पीसीबी के बीच वार्ता रद

मुंबई 19 अक्टूबर 2015 (IMNB). शिवसैनिकों ने आज यहां भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के दफ्तर पर हंगामा किया। भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट सीरीज की संभावनाएं तलाशने के लिए दोनों बोर्डों के प्रमुखों की बैठक होनी थी। शिवसैनिकों ने पाकिस्तान विरोधी नारे भी लगाए। इधर, शिवसेना के विरोध के बाद बीसीसीआई और पीसीबी के बीच वार्ता को रद कर दिया गया है।

इस बीच राजीव शुक्ला ने शिवसेना पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि यह निंदनीय है, ऐसा नहीं होना चाहिए। क्रिकेट से जुड़े से फैसले बीसीसीआइ को लेने दें। कांग्रेस नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि लोकतंत्र में विरोध की जगह होती है लेकिन कानून-व्यवस्था को अपने हाथ में नहीं लेना चाहिए। केंद्रीय मंत्री व भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने भी शिवसैनिकों द्वारा किए गए हंगामे की आलोचना की। नकवी ने कहा कि हिंसा के लिए कोई जगह नहीं, चाहे वो किसी तरह का विरोध हो। जानकारी के अनुसार, सोमवार सुबह बड़ी संख्या में शिवसैनिक वानखेड़े स्टेडियम स्थित बीसीसीआई के दफ्तर में घुस गए और सीधे बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर के कैबिन में पहुंचे। यहां उन्होंने पाकिस्तान हाय-हाय के नारे लगाने के साथ ही मनोहर को काले झंडे दिखाए।

शिवसैनिकों ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष शहरयार खान के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कहा कि वे वापस पाकिस्तान लौट जाए। इतनी बड़ी संख्या में शिवसैनिकों की मौजूदगी की खबर लगते ही पुलिस ने इलाके को चारों तरफ से घेर लिया। इसकी खबर लगते ही शिवसैनिक वहां से भाग खड़े हुए। हालांकि, पुलिस ने इनमें से कई को हिरासत में ले लिया है। गौरतलब है कि पाकिस्तान लंबे समय से कोशिश कर रहा है कि भारत उसके साथ क्रिकेट सीरीज खेले। इसके लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) प्रमुख शहरयार खान कई बार भारत आ चुके हैं। शशांक मनोहर के बीसीसीआई प्रमुख बनने के बाद इस सीरीज की नई संभावना बनी है। यह बैठक उसी सिलसिले में होने वाली थी। शिवसेना इसका विरोध कर रही है।

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision