Latest News

गुरुवार, 29 अक्तूबर 2015

महोबा - शराब माफिया के इशारे पर पत्रकार पर हुआ जानलेवा हमला

महोबा 29 अक्‍टूबर 2015 (इरफान पठान). प्रदेश में पत्रकारों पर हो रहे हमले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं, ताजा मामला महोबा का है जहां पकड़ी गई शराब की कवरेज से बौखलाए शराब माफिया के समर्थकों ने न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया चैनल के पत्रकार पर उसके कार्यालय में घुस कर हमला कर दिया। पत्रकार को मारपीट कर उसके पैसे छीन कर हमलावर खुलेआम तमंचा लहराते हुए भाग गए । स्‍थानीय पुलिस द्वारा ढुलमुल रवैया अख्तियार करने पर पत्रकार संगठन 'आईरा' ने प्रकरण में हस्‍तक्षेप किया तब जा कर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की।



प्राप्‍त जानकारी के अनुसार महोबा में पिकअप गाड़ी भरी शराब पकड़ने की खबर मिलने पर कवरेज करने पहुंचे  न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया चैनल के स्‍थानीय पत्रकार तेजप्रताप सिंह को पहले तो शराब माफिया के साथियों ने कवरेज करने से रोका । पत्रकार द्वारा मना करने से माफिया के साथी बौखला गए और अपने साथी एवं तथाकथित पत्रकार मनोज ओझा को बुला लिया। सूत्र बताते है कि मनोज ओझा जो कि ETV का खुद को पत्रकार बताता है, चैनल की आड़ में शराब माफियों की सरपरस्ती करता है। जिसका उसे महावार के रूप ने माफियों से पैसा भी मिलता है। उक्‍त मनोज ओझा ने अपने साथी सूबेंद्र के साथ पहले तो पत्रकार तेज प्रताप को खबर कवरेज करने से मना किया और न मानने पर उसे धमकी दी कि तुमने सांप की बाम्‍बी में हाथ डाल दिया है । 


यहीं नहीं सभी ने आबकारी विभाग से सांठ-गाँठ कर शराब से लदी पिकअप वाहन भी छुड़ा ली । लेकिन खबर कवरेज से बौखलाया मनोज ओझा अपने साथी सूबेंद्र, बिक्कू और एक अज्ञात के साथ खबर न चलाने से रोकने के लिए पत्रकार तेजप्रताप के कार्यालय जा पहुंचा और धमकाने लगा। न मानने पर पत्रकार को घसीटते हुए बाहर ले गया और उसको बेरहमी से पीटा और जेब में पड़े 4300 रुपये छीन कर तमंचा लहराते हुए साथियों समेत भाग गया। पत्रकार पर हुए प्राणघातक हमले की खबर मिलते ही जनपद के सभी पत्रकार घटनास्थल पर पहुँच गए। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँच गई । पुलिस ने घटना स्थल की जाँच की और घायल पत्रकार को इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया। पुलिस को पीड़ित द्वारा घटना की तहरीर दी गई है, पर पहले तो पुलिस मामले को निपटाती नजर आई लेकिन जब इस घटना पर All India Reporter's Association (AIRA) ने संज्ञान लिया तब जाकर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया।

ताजा जानकारी के अनुसार आईरा के दखल के बाद आरोपी ई टीवी के तथाकथित रिपोर्टर सहित चार लोगों के खिलाफ धारा 452 और 394 में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, मगर पुलिस सूत्रों से मिली अपुष्‍ट जानकारी के अनुसार मामले के विवेचक आरोपियों की मदद कर रहे हैं और जाँच में 394 को हटाने के प्रयास कर रहे हैं। लेकिन दूसरी तरफ आईरा के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता तारिक आज़मी ने खुलासा टीवी को बताया कि वो भी मामले पर पूरी नजर बनाये हैं और कोई अनियमित्‍ता पाये जाने पर उनका संगठन आन्‍दोलन को तैयार है।

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision