Latest News

मंगलवार, 6 अक्तूबर 2015

बिसाहड़ा कांड - पाकिस्तान में ढाई महीने रहकर आया था इकलाख

नोएडा 06 अक्टूबर 2015 (IMNB). बिसाहड़ा में इकलाख की हत्या की वजह उसका पाकिस्तान जाकर वापस आना था। एक साल पहले इकलाख पाकिस्तान गया था और सवा महीने रहकर वापस आया था। वहां से आने के बाद इकलाख ने कार खरीद ली थी। इससे गांव के लोग उसे शक भरी नजरों से देखने लगे थे।
प्राप्‍त जानकारी के अनुसार इकलाख का परिवार भी भारत-पाक बंटवारे का शिकार हुआ था। इकलाख की मौसी अखतरी पाकिस्तान में रहती हैं। उनसे मिलने के लिए इकलाख करीब सवा साल पहले पाकिस्तान गया था। यही कारण था कि 28 सितंबर की रात जब विशाल और शिवम ने मंदिर से इकलाख पर गोहत्या का आरोप लगाया तो उसे गांव के अन्य लोगों ने सही मान लिया। वह इकलाख के घर पहुंचे और उसकी हत्या कर दी गई। इकलाख की बहन हाजरा का कहना है कि पाकिस्तान में रहने वाली मौसी अखतरी के पास परिवार का कोई अन्य सदस्य नहीं गया है। इकलाख ही ढाई माह रहकर आया था। हालांकि, इसके पीछे सिर्फ मौसी से मिलने का मकसद था। उधर, एडीएम राजेश यादव का कहना है कि प्रशासन को इकलाख के पाकिस्तान जाने की जानकारी नहीं है। अभी तक यह मामला किसी के संज्ञान में नहीं आया। अब इसकी जांच होगी कि इकलाख क्यों और कैसे पाकिस्तान गया था।

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision