Latest News

सोमवार, 28 सितंबर 2015

भारत की होगी 21वीं सदी, क्‍योंकि विश्‍व का सबसे युवा देश है भारत

सैन होज 28 सितंबर 2015 (IMNB). प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दो दिनी सिलिकॉन वैली दौरे के बीच सैप सेंटर में इंडो-अमेरिकन समुदाय को संबोधित किया। यहां पहुंचते ही वहां मौजूद लोगों ने उनके समर्थन में मोदी-मोदी के नारे लगाए। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि वह मेहनत करने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेंगे और देश को विकास के पथ पर अग्रसर करेंगे।

आज शहीद भगत सिंह के जन्मदिन के अवसर पर उन्होंने उन्हें नमन किया और कहा कि आज भारत के महान सपूत का जन्मदिन है, जिन्हें वह शत-शत नमन करते हैं। हमेशा की ही तरह उन्होंने एक बार फिर से यहां पर भारत को विश्व का सबसे नौजवान देश बताते हुए कहा कि भारत में 65 फीसद आबादी युवाओं की है जो कुछ भी कर गुजरने की ताकत रखते हैं। दुनिया का कोई दूसरा देश ऐसा नहीं है जहां 80 करोड़ युवा हों। यही वजह है कि भारत विश्व का सबसे युवा देश है। 21वीं सदी भारत की होगी। भारत ने विश्व को कई रत्न दिए हैं, जिन्होंने विश्व को विकसित करने अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने वहां मौजूद लोगों को कहा कि आपकी उंगलियां कंप्यूटर पर कमाल करती हैं। इससे देश को एक नहीं पहचान मिली है। यही वजह है कि आज दुनिया में भारत की पहचान अहम देश के रूप में होने लगी है। बदलावों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि वह यहां पर 25 वर्ष पहले आए थे। तब और आज में उन्हें यहां पर कई बदलाव देखने को मिले हैं।

भारतीय वैज्ञानिकों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि जिस मंगल ग्रह के लिए दुनिया जद्दाेजहद कर रही थी उसको हमारे वैज्ञानिकों ने पहली ही बार में सफलता से पूरा कर लिया। इस मौके पर उन्होंने 'JAM of all' की भी चर्चा की। इसका अर्थ समझाते हुए उन्होंने कहा कि J से जनधन योजना, A से आधार कार्ड और M से मोबाइल गवर्नेंस है। यह तीनों ही देश के विकास में भागीदार हैं। इस मौके पर उन्होंने एक बार फिर से जहां अपनी सरकार की पीठ थपथपाई वहीं विपक्ष को भी लताड़ लगाई। उन्होंने बिना किसी का नाम लिए कहा कि उनकी सरकार ने बेईमान नेताओं के नीचे से जमीन खींच ली है। पीएम ने कहा कि उनके आहवान पर लाखों लोगों ने एलपीजी सब्सिडी छोड़ दी। उन्हें इस बात पर गर्व है कि इनकी तादाद तीस लाख तक पहुंच गई है। देश और विश्व में बढ़ रहे आतंकवाद पर भी उन्होंने चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि विश्व इसको गुड और बैड टेररिज्म करके नहीं देख सकता है। क्योंकि आतंकवाद सिर्फ आतंकवाद होता है, उसका न तो कोई मजहब होता है और न ही कोई रंग होता है। इसलिए विश्व समुदाय को इसके प्रति अपना नजरिया भी बदलना होगा।

मोदी ने ब्रेन-ड्रेन के विषय पर कहा कि पहले यह चर्चा होती थी कि इस ब्रेन-ड्रेन को रोका जाए, लेकिन अब यही ब्रेन-ड्रेन, ब्रेन-गेन बन गया है और उनकी नजर में यह ब्रेन-ड्रेन नहीं ब्रेन-डिपॉजिट है। उन्होंने कहा कि यह डिपॉजिट हुआ ब्रेन मौके की तलाश में है। जिस दिन मौका मिलेगा, वह ब्याज समेत मां भारती के काम आएगा।माेदी ने तकनीक और विकास को जोड़ते हुए कहा कि इससे जो क्रांति विश्व में आई है वह अतुलनीय है। इन सभी का किसी भी देश के विकास में बहुत बड़ा योगदान है। यही वजह है कि भारत में डिजिटल इंडिया की शुरुआत की गई है और सरकार का पूरा जोर है कि देश में डिजिटल साक्षरता को बढ़ाया जाए। इससे पहले सैप सेंटर में सूफी सिंगर कैलाश खेर ने परफॉर्म किया। सिलिकॉन वैली सैन फ्रांसिस्को बे एरिया का पार्ट है। यहां करीब पांच लाख भारतीय मूल के लोग रहते हैं। पीएम मोदी को यहां सुनने के लिए करीब 48,000 से ज्यादा लोग मोदी को सुनने के लिए रजिस्टर कराया है। इससे पहले उन्होंने पिछले वर्ष पहले मेडिसन स्क्वेयर में भी स्पीच दी थी। उस समय उन्हें सुनने 18 हजार लोग आए थे।

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision