Latest News

रविवार, 6 सितंबर 2015

कानपुर - उत्‍पीडन से हो गये त्रस्‍त पत्रकार, धरना प्रर्दशन किया जोरदार

कानपुर 06 सितम्‍बर 2015 (मधु कुशवाहा). आये दिन हो रहे पत्रकारों के उत्‍पीडन के खिलाफ विभिन्‍न पत्रकार संगठनों द्वारा आज फूलबाग स्थित गांधी प्रतिमा पर धरना प्रर्दशन किया गया। इस कार्यक्रम में कानपुर, उन्‍नाव, लखनऊ, कन्‍नौज, वाराणसी और फतेहपुर आदि जिलों से आये पत्रकारों ने शिरकत की। कार्यक्रम में वक्‍ताओं ने प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुये कहा कि पत्रकारों के खिलाफ हिन्‍सा की वारदातों पर सख्‍ती से कार्यवाही की जानी चाहिये अन्‍यथा पत्रकार अगले चरण में विधानसभा का घेराव करने को बाध्‍य होगें।
 आल मीडिया एण्‍ड जर्नलिस्‍ट एसोसिएशन के अध्‍यक्ष श्री आलोक कुमार ने कहा कि पत्रकारों के दम पर ही आज भारत में लोकतन्‍त्र सुचारू रूप से चल रहा है और सरकार पत्रकारों के साथ ही सौतेला व्‍यवहार करती है ये अब बर्दाश्‍त नहीं किया जायेगा। नेताओं को यह समझना होगा कि पत्रकार कोई भेड बकरी नहीं हैं कि जब चाहा हांक दिया, कलम की ताकत ने सरकारें बदल दी हैं इसको कम करके आंकने वाला बहुत पछतायेगा। आल इण्डिया रिर्पोटर्स एसोसिएशन (आइरा) के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता वाराणसी के श्री तारिक आजमी ने अपने वक्‍तव्‍य में कहा कि उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों मे पत्रकारों के उत्पीडन की घटनाएँ निरतर बढती जा रही हैं, यदि सरकार अभी भी नहीं चेती और पत्रकारों के उत्पीडन पर रोक लगाते हुए सुरक्षा मुहैया कराने एवं कडे कानून बनाने की दिशा में कदम नहीं उठाये गये तो प्रदेश के सभी जिलों में आइरा के हजारों कार्यकर्ता सडकों पर उतर कर प्रदर्शन करने को बाध्‍य होगें। कानपुर प्रेस क्‍लब के महामंत्री श्री अवनीश दीक्षित ने लोक तंत्र के चौथे स्तम्भ के साथ सूबे में हो रही उत्पीडन की घटनाओं पर चिन्ता जताते हुए महामहिम राज्यपाल से पत्रकार उत्पीडन की घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु ऐसे मामलों में आरोपियों पर रासुका लगाने की मांग की। उन्‍होंने कहा कि पत्रकारों के हित के लिये वो और उनका संगठन हर समय उपलब्‍ध है। 
आइरा के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष पुनीत निगम ने कहा कि पत्रकारों का सबसे बड़ा दुश्मन उनका अपना मीडिया संस्‍थान ही है, जिनके दम पर अख़बारों व चैनलों का वजूद है उन्हीं के साथ मीडिया संस्‍थान वक्त आने पर खड़े नहीं होते हैं। यदि पत्रकार आपस में एकता दिखायें तो कोई भी उनका कुछ नहीं बिगाड पायेगा। श्री निगम ने कहा कि आइरा के सौजन्‍य से पत्रकारों के उत्‍पीडन के मामलों में नि:शुल्‍क विधिक सहायता उपलब्‍ध है। पीडित पत्रकार वाट्सएप नम्‍बर 09839067621 पर सम्‍पर्क कर सकते हैं। श्री निगम ने हाल ही में भाजपा प्रदेश अध्‍यक्ष द्वारा पत्रकार आलोक कुमार के खिलाफ दिये वक्‍तव्‍य को निन्‍दनीय बताते हुये उनसे तत्‍काल सार्वजनिक माफी मांगने की मांग की। उन्‍होंने कहा कि माफी न मांगे जाने की सूरत में पत्रकार भाजपा से जुडे कार्यक्रमों का बहिष्‍कार करेंगे और अगले चरण में लखनऊ में भाजपा कार्यालय का घेराव किया जायेगा। 
कार्यक्रम का संचालन श्री इब्‍ने हसन जैदी ने व अध्‍यक्षता श्री पुनीत निगम ने की। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से अवनीश दीक्षित, आलोक कुमार, तारिक आजमी, पुनीत निगम, सुनील साहू, सूरज वर्मा, मो0 नदीम, शीलू शुक्‍ला, आशीष त्रिपाठी, योगेन्‍द्र अग्निहोत्री, नीरज तिवारी, इब्‍ने हसन जैदी, शिव कलवार, श्रवण गुप्‍ता, श्‍याम सिंह पंवार, अजय श्रीवास्‍तव, विजय कुशवाहा, नीरज शर्मा, रत्‍नेश गुप्‍ता, मनीष मिश्रा, विष्‍णू गुप्‍ता, जावेज रजा, ब्रजेश अवस्‍थी, पप्‍पू यादव, राजीव मिश्रा, प्रवीन सिंह, दीपक मिश्रा, बलवन्‍त सिंह आदि पत्रकार उपस्थित थे।

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision