Latest News

बुधवार, 5 अगस्त 2015

मध्य प्रदेश में एक ही जगह पटरी से उतरीं दो ट्रेनें, 31 यात्रियों की मौत

मध्य प्रदेश 5 अगस्त 2015 (महेश प्रताप सिंह). मुंबई से वाराणसी जा रही कामायनी एक्सप्रेस और जबलपुर से मुंबई जा रही जनता एक्सप्रेस मंगलवार देर रात मध्य प्रदेश के खिड़किया और हरदा स्टेशन के बीच एक ही स्थान पर दुर्घटनाग्रस्त हो गईं। हरदा से 30 किलोमीटर पहले उफनाई काली मचक नदी की पुलिया से गुजरते वक्त कामायनी के 11 और जनता एक्सप्रेस के पांच डिब्बे व इंजन पुलिया धंसने से नदी में गिर गए। इन बोगियों में चार सौ से अधिक यात्री सवार थे।
हादसे में करीब 31 लोगों की मौत हो गई, जबकि 100 अन्य घायल हो गए हैं। मरने वालों में तीन बच्चे , छह पुरुष और सात महिलाएं भी शामिल हैं। हरदा के कलेक्टर रजनीश श्रीवास्तव ने इसकी पुष्टि की है। चश्मदीदों के मुताबिक, अब तक करीब दो सौ लोगों को निकाला गया है। इस दौरान एक ही कोच से 11 लोगों के शव निकाले गए हैं। इसके अलावा कुछ अन्य शव भी निकाले गए हैं। हालांकि बारिश के चलते राहत-बचाव कार्य में परेशानी आ रही है। सूत्रों के मुताबिक कुछ अन्य शव भी निकाले गए हैं। रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने हादसे की पुष्टि करते हुए ट्वीट किया कि अंधेरे और मूसलाधार बारिश की वजह से राहत और बचाव कार्य में दिक्कत आ रही है। हादसे के बारे में रेलवे के पीआरओ अनिल सक्सेना ने बताया कि मुंबई की ओर से आ रही कामायनी एक्सप्रेस के 5 कोच और हरदा की ओर से आ रही जनता एक्सप्रेस के इंजन व दो कोच माचक नदी का पुल क्षतिग्रस्त होने के कारण पलट गए। इटारसी व भोपाल से रेलवे के डीआरएम व रेस्क्यू टीम घटना स्थल पर पहुंच गई है। अभी तक कुल 31 लोग मारे गये है हादसे में जिसमे छह पुरुष, सात महिला व तीन बच्चे हैं। रेल राज्य मंत्री ने मृतकों को 2 लाख और घायलों को 50 हजार देने की घोषणा की है।

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision