Latest News

मंगलवार, 26 मई 2015

सरकार के एक साल पूरे होने पर खत के जरिए मोदी ने की मन की बात

नई दिल्ली 26 मई 2015. प्रधानमंत्री के रूप में कार्यकाल का एक वर्ष होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज खत के माध्‍यम से अपनी सरकार द्वारा किए गए कार्यों का ब्यौरा दिया, जिनमें अर्थव्यवस्था में सुधार लाने से लेकर गरीबों के लिए उठाए जाने वाले कदम तक शामिल थे। उन्होंने कहा कि यह लोगों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाने की शुरूआत भर है।
लोगों के नाम लिखे खुले पत्र में प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हम सरकार में विश्वास की बहाली करने में कामयाब रहे हैं।’ हम एक ‘भ्रष्टाचार मुक्त’ शासन सुनिश्चित करने में, राष्ट्रीय विकास के कार्य में राज्य सरकारों को बराबरी का भागीदार बनाने में और टीम इंडिया की भावना का सृजन करने में कामयाब रहे हैं। मोदी ने कहा कि लोगों ने एक साल पहले ‘प्रधानसेवक’ बनाकर जो जिम्मेदारी और सम्मान उन्हें दिया था, उसका निवर्हन पूरी ईमानदारी और गंभीरता के साथ करने के लिए उन्होंने अपने ‘‘शरीर और आत्मा’’ के हर कण को समर्पित कर दिया है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हमने एक ऐसे समय पर पद संभाला था, जब भारत की कहानी में विश्वास घट रहा था। लगातार बढ़ते भ्रष्टाचार और अनिर्णय की स्थिति ने सरकार को पंगु बना दिया था। लगातार बढ़ती महंगाई और आर्थिक असुरक्षा के बीच लोगों को असहाय छोड़ दिया गया था’ मोदी ने कहा, ‘तत्काल और निर्णयकारी कदम उठाया जाना जरूरी हो गया था।’ पद पर एक साल रहने के दौरान का रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने इन चुनौतियों से निपटने के लिए व्यवस्थित तरीका अपनाया। लगातार बढ़ती कीमतों को तत्काल नियंत्रण में लाया गया। प्रधानमंत्री ने कहा कि स्थायी और नीति आधारित सक्रिय शासन की बदौलत हमारी मुरझा चुकी अर्थव्यवस्था में नई जान फूंकी गई। उन्होंने कहा कि देश के कीमती प्राकृतिक संसाधनों का आवंटन मनमर्जी से कुछ गिने चुने लोगों को कर दिए जाने की जगह पारदर्शी नीलामी प्रक्रिया लाई गई। काले धन के खिलाफ कड़े कदम उठाए गए, जिनमें एसआईटी का गठन करना और काले धन के मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय सहमति बनाने के लिए कड़ा कानून पारित करना शामिल रहा। प्रधानमंत्री ने कहा कि इरादों और कार्यों दोनों में शुद्धता के सिद्धांत पर कायम रहने के कारण भ्रष्टाचार-मुक्त शासन सुनिश्चित किया जा सका। उन्होंने कहा कि कार्य संस्कृति में ऐसे महत्वपूर्ण बदलाव लाए गए हैं, जो कि पेशेवराना अंदाज के साथ-साथ संवेदनाओं का भी पोषण करते हैं और व्यवस्थाओं को मजबूत करने के साथ-साथ अवरोधों को तोड़ते हैं। मोदी ने कहा कि टीम इंडिया की भावना तैयार करने और राष्ट्रीय विकास के लिए प्रयासों में राज्य सरकारों को बराबर का सहयोगी बनाया गया है। सबसे महत्वपूर्ण, ‘‘ हम सरकार में विश्वास बहाल करने में कामयाब रहे हैं।’’ प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि उनकी सरकार गरीबों, वंचितों और पीछे छूट गए लोगों के लिए प्रतिबद्ध है और यह अंत्योदय के सिद्धांत से निर्देशित है।

(IMNB) 

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision