Latest News

मंगलवार, 5 मई 2015

हद हो गयी - तलाक के लिए 62 अरब रूपए, वो भी लगे कम

नई दिल्ली 5 मई 2015. क्या आप सोच सकते है कि कोई व्यक्ति तलाक के बाद अपनी पत्नी को गुजारा भत्ता के रूप में कितनी रकम दे सकता हैं । शायद आप का जवाब 100 करोड, 200 करोड या 500 करोड रूपए होगा। लेकिन हम आपको एक ऎसी घटना बताने जा रहे है जिससे आप सुनकर हैरान हो जाएंगे। अमेरिका के एक ऑयल टाइकून ने पूरे 6161 करोड रूपए दिए हैं। लेकिन उनकी पूर्व पत्नी ने इस चेक की रकम को कम बताते हुए रिजेक्ट कर दिया।
खबरों की मानें तो अमेरिका के ऑयल टाइकून और बिजनेसमैन हेरॉल्ड हैम की पूर्व पत्नी सुई एन हैम ने 975 मिलियन डॉलर यानी करीब 61.6 अरब रूपए का सेटलमेंट चेक यह कहते हुए रिजेक्ट कर दिया कि उन्हें सेटलमेंट के लिए और पैसे मिलने चाहिए क्योंकि उन्होंने हैम को इस मुकाम तक पहुंचाने में मदद की है। आपको बता दें कि कुछ महीनों पूर्व ही ओक्लाहोमा काउंटी जज ने 10 हफ्तों तक चली सुनवाई के बाद ऑयल टाइकून कहे जाने वाले 68 वर्षीय हैम को पूर्व पत्नी को करीब 1 बिलियन डॉलर गुजारा भत्ता भुगतान करने का आदेश दिया था। बताया जा रहा है कि हैम को तलाक के लिए इतना बडा चेक साइन करने के लिए पैसे उधार लेने पडे हैं। हैम और आर्नेल ने साल 1988 में शादी की थी और इनके दो बच्चे भी हैं। दोनों के बीच तलाक के लिए समझौते की शर्तो पर सहमति नहीं बन पाई, जिस वजह से पिछले ढाई साल ये मामला कोर्ट में है। दरअसल 19 बिलियन डॉलर(1200 अरब रूपए) संपत्ति के मालिक हैम को तेल की कम होती कीमतों की वजह से नुकसान उठाना पडा है। जिसके चलते उन्होंने भी अपील की है कि सेटलमेंट के तौर पर 1 बिलियन डॉलर देना सही नहीं है।

Advertisement

Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision