Latest News

शनिवार, 16 मई 2015

परीक्षा देने आई छात्रा ने टॉयलेट में दिया बच्चे को जन्म

बुलंदशहर 15 मई 2015. श्री वार्ष्णेय डिग्री कॉलेज में बीए (व्यक्तिगत) की परीक्षा देने आई एक छात्रा ने प्रसव पीड़ा होने के बाद कॉलेज के टॉयलेट में ही बच्चे को जन्म दे दिया। बच्चे का जन्म समय से पहले हुआ है। वह सात माह का है। छात्रा मूल रूप से बुलंदशहर की रहने वाली है। छात्रा को आनन-फानन में मोहन लाल गौतम महिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। बच्चा भी अस्पताल की नर्सरी में भर्ती है।
माना जा रहा है कि छात्रा ने अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाने के लिए गर्भपात कराने वाली दवा का सेवन किया था, जिसके बाद उसकी यह हालत हुई। बुलंदशहर के एक गांव की रहने वाली छात्रा देने के लिए अलीगढ़ में अपने रिश्तेदार के यहां ठहरी हुई थी। सुबह करीब साढ़े दस बजे छात्रा के प्रसव की जानकारी मिलने के बाद कॉलेज प्रशासन भी सकते में आ गया। तुरंत ही ऐंबुलेंस की व्यवस्था की गई और 'उड़ान' सोसाइटी की सहायता से छात्रा को महिला अस्पताल भेज दिया गया। छात्रा के रिश्तेदार ने बताया कि उसके पिता साधारण किसान हैं। वह तीन बहनों में सबसे बड़ी है। उसकी हालत का किसी को अंदाजा भी नहीं था। उन्हें कॉलेज से सूचना मिली थी कि उसके पेट में दर्द उठा है। श्री वार्ष्णेय कॉलेज के जनसंपर्क अधिकारी डॉ. वीपी पांडेय ने बताया कि छात्रा हमारे यहां की संस्थागत विद्यार्थी नहीं है। परीक्षा के दौरान ही उसने निरीक्षक से टॉयलेट जाने की बात कही। उसे जाने दिया गया। बाद में पता चला कि उसे प्रसव हुआ है। कॉलेज की शिक्षिकाओं और महिला काउंसलर्स के सहयोग से छात्रा को ऐंबुलेंस बुलाकर महिला अस्पताल भेज दिया गया।

(IMNB)

Special News

Health News

Advertisement


Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision