Latest News

गुरुवार, 28 मई 2015

कानपुर - नुक्‍कड़ नाटक कर दहेज कानून के दुरोपयोग बताये

कानपुर 28 मई 2015. भारत सरकार ने एक ओर जहां दहेज कानून को सबसे ज्‍यादा दुरूपयोग होने वाली धारा (IPC- 498 A) माना है और उसके दुरूपयोग के प्रति चिंता व्‍यक्‍त की है। वहीं दूसरी ओर कुछ संस्‍थाए इसका पुरजोर विरोध कर रही हैं। इसी संदर्भ में आज दोपहर 1:30 बजे शिक्षक पार्क नवीन मार्केट में आर्ट लवर्स कल्‍चरल एंड सोशल सोसाइटी एवं दामन नामक संस्‍थाओं ने मिलकर नुक्‍कड. नाटक का आयोजन किया।
जिसमें कलाकारों ने बताया कि अगर इस कानून में संशोध्‍ान करना ही है तो इसे समझौते योग्‍य नहीं बल्कि जमानत योग्‍य बनायें। संस्‍था द्वारा पहले फेरे, फिर दहेज कानून कैसे घेरे की परिकल्‍पना पर नुक्‍कड नाटक के जरिये लोगों को दिखाया कि किस प्रकार शादी के बाद कारण चाहे जो भी हो, लडकी पक्ष द्वारा दहेज का मुकदमा दर्ज करा दिया जाता है और इस कारण पति एवं उसके परिवार को जेल भी जाना पड जाता है जिसके बाद समझौते की गुंजाइश शून्‍य हो जाती है। नाटक का मंचन करने वाले कलाकारों में - सीमा खान, धीरेन्‍द्र दिवेदी, नागेन्‍द्र , दिवेदी, आसिफ जाफरी, उमा मिश्र आदि शामिल थीं। इस दौरान दामन के अध्‍यक्ष अनुपम दुबे एवं संस्‍थापक सदस्‍य मनुज गुप्‍ता भी उपस्थित रहे। 

(सूरज वर्मा)

Special News

Health News

Advertisement


Created By :- KT Vision