Latest News

शुक्रवार, 10 अप्रैल 2015

मांझी और मोदी की मुलाकात से हिले लालू यादव

पटना। आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव ने बुधवार को यह कहकर सबको चौंका दिया कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के लिए जनता परिवार का दरवाजा खुला है। मंगलवार को मांझी ने पीएम मोदी से मुलाकात की थी। इसके बाद लालू का यह बयान मायने रखता है। जनता दल की सभी पार्टियों का इसी महीने विलय होने वाला है।
लालू ने बिहार के सासाराम में एक पब्लिक मीटिंग को संबोधित करते हुए कहा कि जनता परिवार में मांझी के लिए जगह है। उन्होंने कहा कि विलय का औपचारिक ऐलान 14 अप्रैल को होगा। नीतीश ने मतभेद के बाद मांझी को मुख्यमंत्री पद से हटा इदिया था।  मांझी के फ्रंट हिन्दुस्तान अवाम मोर्चा समर्थक विधायकों में भी दो तरह की राय है। 9 विधायक बीजेपी जॉइन कर इलेक्शन लड़ना चाहते हैं और 11 विधायक भगवा पार्टी से केवल गठबंधन करने के पक्ष में हैं। जनता परिवार में पार्टियों के विलय से पहले मांझी प्रधानमंत्री से मिलकर काफी खुश हैं। मांझी के राजनीतिक फ्रंट ने इलेक्शन कमिशन से संपर्क कर तीर चुनाव चिन्ह अलॉट करने की मांग की है। तीर अभी जेडीयू का चुनाव चिन्ह है। जनता परिवार में समाजवादी पार्टी, आरजेडी, जेडीयू, आईएनएलडी और जेडी(एस) का विलय होने वाला है। मांझी कैंप के एक बड़े नेता का कहना है, 'हमलोग पहले आरजेडी और कांग्रेस से गठबंधन करने पर विचार कर रहे थे लेकिन जनता परिवार के विलय के बाद अब कोई विकल्प नहीं बचा है। किसी भी सूरत में 8 निलंबित विधायकों समेत 11 विधायक जनता परिवार के साथ जाने के खिलाफ हैं। अब हमारे पास विकल्प के रूप में या तो बीजेपी है या अकेले चुनाव में जाना।' मांझी कैंप के एक विधायक ने कहा कि वह बीजेपी जॉइन करना चाहते हैं। उस विधायक ने कहा कि मांझी बिहार विधानसभा चुनाव में बीजेपी से 20 सीटें चाहते हैं। इन्हें उम्मीद है कि वे 15 सीट जीत जाएंगे। जब विधानसभा चुनाव में खंडित जनादेश की स्थिति होगी तो मांझी 15 सीट जीतकर भी किंगमेकर की भूमिका अदा कर सकते हैं। उस विधायक ने कहा कि मांझी पीएम से मिलकर पूरी तरह से आश्वस्त हैं। पीएम ने उन्हें भरोसा दिलाया है। मांझी के लिए तब दिक्कत हो सकती है जब बीजेपी अड़ जाए कि वह 185 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। हालांकि मांझी के पास अपनी सियासी ताकत दिखाने को पर्याप्त वक्त है। एक सीनियर बीजेपी नेता ने कहा कि हम लोग मांझी का समर्थन करते हैं लेकिन गठबंधन पर बात करने के लिए अभी पर्याप्त वक्त है। बिहार बीजेपी प्रभारी भूपेंद्र यादव ने कहा कि गठबंधन पर बात के लिए अभी इंतजार कीजिए। उन्होंने कहा कि हमने नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चुनाव लड़ने का फैसला किया है।

(IMNB)

Special News

Health News

Advertisement

Important News


Created By :- KT Vision