Latest News

शुक्रवार, 20 मार्च 2015

नई जिम्मेदारी : रेलवे का 'कायाकल्‍प' करेंगे रतन टाटा

नई दिल्ली। आर्थिक संकट से जूझ रही भारतीय रेलवे को रतन टाटा का साथ मिल गया है। रेलवे में इनोवेशन के लिए टाटा समूह के मानद चेयरमैन रतन टाटा को 'कायाकल्प परिषद' का प्रमुख नियुक्त किया गया है। बजट में किए गए वादों को पूरा करते हुए रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने गुरुवार को 'कायाकल्प परिषद' का गठन कर दिया।
देश के जाने माने उद्योगपति रतन टाटा को इसका अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। रेल मंत्रालय के मुताबिक, 'कायाकल्प परिषद' रेलवे में निवेश आकर्षित करने के लिए अहम बदलावों की रूपरेखा तैयार करेगी और सभी स्टेक होल्डर्स से और अन्य निवेश की इच्छुक पार्टियों से संपर्क साधेंगी। फिलहाल इस काउंसिल में ऑल इंडियन रेलवेमेन फेडरेशन (एआइआरएफ) के जनरल सेक्रटरी शिव गोपाल मिश्रा और नैशनल फेडरेशन ऑफ इंडियन रेलवेमेन (एनएफआईआर) के जनरल सेक्रटरी डॉक्टर एम. राघवैया शामिल हैं। एआईआरएफ और एनएफआईआर रेलवे कर्मचारियों का प्रतिनिधित्व करती हैं। 'कायाकल्प परिषद' में अन्य सदस्यों के नाम जल्द ही घोषित किए जाएंगे। रेलमंत्री ने इस परिषद के गठन का ऐलान 2015-16 के रेल बजट में किया था। प्रभु ने कहा कि हम बजट भाषण में किए गए सभी प्रस्तावों को अमल में लाने की कोशिश कर रहे हैं, 'कायाकल्प परिषद' के गठन का प्रस्ताव भी उन्हीं में से एक है।

(IMNB)

Special News

Health News

Advertisement

Important News


Created By :- KT Vision