Latest News

गुरुवार, 19 मार्च 2015

महाराष्‍ट्र : लेखक-ऐक्टिविस्ट भारत पटनाकर को हत्या की धमकी

मुंबई। महाराष्ट्र में बुद्धिजीवियों के लिए बुरा दौर थमता दिख नहीं रहा है। अंधविश्वास के खिलाफ लड़ने वाले नरेंद्र दाभोलकर और कम्युनिस्ट नेता गोंविद पानसारे की हत्या के बाद अब मशहूर ऐक्टिविस्ट और लेखक डॉ. भारत पटनाकर को हत्या धमकी मिली है। डॉ. पटनाकर ने मीडिया को बताया कि उन्हें कई लोग नफरत भरी चिट्ठियां भेजते हैं, इतना ही नहीं उन्हें जान से मारने की धमकी भी देते हैं।
इन चिट्ठियों में आरोप लगाया गया है कि डॉ. पटनाकर मुसलमानों के प्रति 'नरम रुख' अपना रहे हैं। डॉ. पटनाकर को फटकारते हुए कहा गया है कि उन्होंने 'विद्रोही सम्मेलन' की अगुआई स्वीकार करके गलत किया। विद्रोही सम्मेलन राज्य द्वारा चलाए जा रहे साहित्य सम्मेलन का एक वैकल्पिक मंच है। मौजूदा समय में डॉ. पटनाकर श्रमिक मुक्ति दल के प्रेजिडेंट हैं। यह संस्था मजदूरों के लिए काम करती है। डॉ. पटनाकर को एक चिट्ठी सोमवार को मिली जो कोल्हापुर से भेजी गई थी। चिट्ठी के साथ उग्र-राष्ट्रवादी पत्रिका 'सनातन प्रभात' की कॉपी भी भेजी गई थी। डॉ. पटनाकर ने बाताया, 'मुझे पहले भी चेतावनी मिली थी। चिट्ठियों में कहा गया था कि में दामोदर और पानसारे के रास्ते पर न जाऊं। अगर मैं ऐसा करता हूं हत्या का अगला नंबर मेरा होगा।'

(IMNB)

Advertisement

Political News

Crime News

Kanpur News


Created By :- KT Vision