Latest News

सोमवार, 9 फ़रवरी 2015

स्विस अकाउंट - नए नामों की जांच करेगी सरकार और एसआईटी

नई दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज कहा कि स्विस बैंक में अकाउंट रखने वाले भारतीयों के नए नाम सामने आए हैं और सरकार इसकी प्रमाणिकता का पता लगाएगी । इसके साथ ही उन्होंने जानकारी दी कि ब्लैक मनी के मामले में पुरानी लिस्ट से 60 अन्य लोगों के खिलाफ मुकदमे दर्ज कर लिए गए हैं।
इस बीच, ब्लैक मनी पर गठित एसआईटी की भी आज ही बैठक हो रही है, जिसमें नए नामों और तथ्यों पर विचार किया जाएगा। एसआईटी का कहना है कि कुछ नाम नए हैं और पहले उसके पास नहीं थे। गौरतलब है कि खोजी पत्रकारों की अंतरराष्ट्रीय संस्था ने स्विट्जरलैंड में एचएसबीसी बैंक में अकाउंट रखने वाले 203 देशों के करीब एक लाख खाताधारकों की लिस्ट जारी की है, जिसमें बड़े उद्योगपतियों और राजनीतिक नेताओं समेत 1195 भारतीयों के नाम हैं और इन खातों में कुल 25,420 करोड़ रुपये जमा हैं। जेटली ने कहा कि टैक्स डिपार्टमेंट ने एचएसबीसी बैंक की स्विस शाखा में खाता रखने वाले भारतीयों की पहले मिली लिस्ट में से 60 के खिलाफ मुकदमा शुरू कर दिया है और आज जिन नामों का खुलासा हुआ है, उनमें से ज्यादातर के बारे में सरकार को पहले से पता है। इनमें से कई खाते वैध हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने पिछले छह-सात महीने के दौरान ब्लैक मनी का पता लगाने के लिए जोरदार प्रयास किए हैं। जेटली ने कहा कि दावोस में स्विट्जरलैंड के वित्त मंत्री समेत कई शीर्ष स्विस अधिकारियों से मुलाकात हुई थी, उनके साथ इस बात पर सहमति हुई थी कि कर-निर्धारितियों (असेसी) के कबूलनामे को अतिरिक्त साक्ष्य माना जाएगा। इस बीच ब्लैक मनी की जांच के लिए बनी एसआईटी नए खुलासे पर चर्चा करने के लिए बैठक करेगी। एसआईटी से जुड़े शीर्ष सूत्रों ने कहा कि कार्यसूची के आधार पर तय इस बैठक में एचएसबीसी के उन भारतीय खाताधारकों से जुड़े मामलों की समीक्षा होगी, जिनके मामलों में कार्रवाई की समयसीमा 31 मार्च को समाप्त हो रही है। उन्होंने कहा कि कुछ ऐसे नामों का खुलासा हुआ है, जो नए हैं और इनका उल्लेख सीबीडीटी और एसआईटी के पास मौजूद लिस्ट में नहीं है। एसआईटी ने जनता से भी ब्लैक मनी रखने वाले भारतीयों के बारे में सूचना मांगी है।

(IMNB)

Special News

Health News

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Created By :- KT Vision