Latest News

मंगलवार, 3 फ़रवरी 2015

सालों बाद चीन-पाकिस्तान में भी होगी आर्मी परेड

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के भारत दौरे से तिलमिलाए चीन और पाकिस्तान अब सालों बाद अपने यहां आर्मी परेड करने जा रहे हैं। चीन में 2009 और पाकिस्तान में 2008 के बाद अब 2015 में यह परेड होगी। इन दोनों ही आयोजनों में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग चीफ गेस्‍ट के तौर पर शामिल होंगे।
सात साल बाद आगामी 23 मार्च को पाकिस्तान के नेशनल डे पर सालाना सैन्य परेड का आयोजन होगा। यहां 2008 में देश में कानून-व्यवस्था बिगडऩे के कारण यह परेड बंद थी, तब जनरल परवेज मुशर्रफ पाकिस्तान के राष्ट्रपति थे। भारत द्धारा अमेरिकी राषट्रपति को बुलाने के बाद अब पाकिस्तान इस परेड में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को बतौर चीफ गेस्ट बुलाएगा। हालांकि अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है। एक अधिकारी के मुताबिक, जिनपिंग को बुलाने का फैसला रणनीति के तहत लिया गया है। इसी तर्ज पर चीन ने भी अचानक अपने नियम बदलकर 10 साल में एक बार मनाई जाने वाली सैनिक परेड को इसी साल आयोजित करने का फैसला लिया है। चीन इस साल दूसरे विश्वयुद्ध में जीत की 70वीं सालगिरह पर विशाल सैन्य परेड का आयोजन करेगा। ओबामा के भारत दौरे से परेशान चीन अमेरिका को जवाब देने के लिए गेस्ट के तौर पर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को बुलाएगा। अमेरिका और भारत के रिश्तों में दिख रही मिठास को देखते हुए दोनों देशों ने यह कदम उठाएं हैं।

Special News

Health News

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Created By :- KT Vision