Latest News

शनिवार, 28 फ़रवरी 2015

स्कूल ने दी बच्ची को तिलक लगाने की सजा

सिकंदराबाद. तेलंगाना के एक स्कूल में एक बच्ची को तिलक लगाने की सजा के तौर पर दो घंटे तक खड़ा रखने की खबर है । 11 वर्षीय इस बच्ची ने अपने जन्मदिन के मौके पर माथे पर तिलक लगाया था जिससे नाराज होकर स्कूल प्रशासन ने कथित तौर पर उसे दो घंटे तक प्रिंसिपल के कमरे के बाहर खड़ा रखा।
खबर के मुताबिक सिकंदराबाद के तरनाका इलाके के सेंट एन स्कूल में पढ़ने वाली लड़की पर इस घटना का इतना बुरा असर पड़ा कि उसने कुछ दिनों तक स्कूल जाने तक से इनकार कर दिया। लड़की के माता-पिता ने इस बारे में मानव अधिकार आयोग से शिकायत की है। आरोप है कि लड़की को प्रिंसिपल सैली जोसफ के कमरे के बाहर खड़े होने की सजा दी गई और साथ ही उसकी मां को समन भी जारी किया गया। आरोप है कि प्रिंसिपल ने छात्रा को स्कूल में तिलक और हेयरपिन लगाकर आने से मना किया। इसके साथ ही जोसफ ने मां की इस दलील को सुनने से भी इनकार कर दिया कि छात्रा अपने जन्मदिन के मौके पर मंदिर गई थी और इसी वजह से उसके माथे पर तिलक लगा है। लड़की के पिता ने ह्यूमन राइट्स कमिशन को लिखे अपने खत में आरोप लगाया है कि प्रिंसिपल ने लड़की और उसकी मां की दलील को नहीं सुना और साथ ही बच्ची को ट्रांसफर सर्टिफिकेट देने की भी कोशिश की। इसके साथ ही प्रिंसिपल ने छात्रा को यह भी हिदायत की कि उसे भविष्य में अपने हर जन्मदिन पर इसे याद रखना चाहिये। मानव अधिकार आयोग ने राज्य शिक्षा विभाग से इस बारे में 9 अप्रैल तक रिपोर्ट मांगी है।

(IMNB)

Special News

Health News

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Created By :- KT Vision