Latest News

शुक्रवार, 27 फ़रवरी 2015

इकॉनमी में 8 फीसदी से ज्यादा ग्रोथ का अनुमान - आर्थिक सर्वे

नई दिल्ली। सरकार ने लोकसभा में शुक्रवार को आर्थिक सर्वे पेश किया। सरकार ने 2014-15 के अनुमानों को आधार मानते हुए 2015-16 के लिए विकास दर 8.1 फीसदी से लेकर 8.5 फीसदी तक रहने का अनुमान जताया है ।
आर्थिक सर्वे में सरकार ने कहा कि भारत अब एक ऐसे बिंदु पर आ पहुंचा है, जहां वह डबल डिजिट ग्रोथ की तरफ बढ़ सकता है। अगर ऐसा हुआ तो देश में 'हर आंख से आंसू पोंछने' के बुनियादी उद्देश्य को हासिल किया जा सकेगा। आर्थिक सर्वे में कहा गया कि इकॉनमी में अब स्थायित्व आया है। रिफॉर्म्स शुरू किए गए हैं। ग्रोथ रेट में गिरावट का सिलसिसा खत्म हो गया है और अब इकॉनमी पटरी पर लौटती दिख रही है। आर्थिक सर्वे में कहा गया है कि निवेशकों को कानूनी सुनिश्चितता और विश्वास प्रदान करने के लिए कोयला, बीमा और भूमि अध्याशदेशों को कानून में बदलने की जरूरत है। सर्वे में यह भी कहा गया है कि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू करने के लिए संविधान संशोधन विधेयक को कानून में परिवर्तित करने की आवश्यकता है। सर्वे में कहा गया है कि भारत निराशा और अनिश्चितता के माहौल में कुछ बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच उज्ज्वल संभावनाओं के साथ उभरा है। अनेक विकसित और उभरती हुई अर्थव्यवस्थाएं निराशा और अनिश्चिताओं की चपेट में हैं। सर्वे में कहा गया है कि भारतीय अर्थव्यवस्था मंदी, बढ़ती महंगाई, बढ़ते हुए राजकोषीय घाटे, घटती हुई घरेलू मांग, विदेशी खाता असंतुलनों और रुपए की घटती कीमत से जुड़ी असुरक्षाओं से काफी हद तक मुक्त हो गई है।

(IMNB)

Special News

Health News

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Created By :- KT Vision