Latest News

गुरुवार, 26 फ़रवरी 2015

मदर टेरेसा को लेकर ट्विटर पर भिड़ीं दिया मिर्जा और मीनाक्षी लेखी

नई दिल्ली. मदर टेरेसा पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के विवादास्पद बयान से ट्विटर पर भी एक जंग छिड़ गई। शब्दों की यह जंग बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी और बॉलिवुड ऐक्ट्रेस दीया मिर्जा के बीच देखने को मिली , जिसमें ट्विटर यूजर्स ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।
मीनाक्षी लेखी ने मोहन भागवत के मदर टेरेसा के धर्म परिवर्तन कराने वाले बयान का ट्विटर पर समर्थन किया था। मीनाक्षी लेखी ने कहा था, 'मदर टेरेसा ने खुद एक इंटरव्यू में स्वीकार किया है कि उनका काम लोगों को ईसाई धर्म में शामिल कराना था।' इसी बयान पर दीया मिर्जा ने मीनाक्षी लेखी को ट्विटर पर आड़े हाथों लिया। दीया मिर्जा ने लिखा, 'मीनाक्षी लेखी, आपको शर्म आनी चाहिए। जिस बयान की निंदा की जानी चाहिए थी, आपने उसे किसी के विश्वास और काम को तोड़-मरोड़ कर सही साबित करने की कोशिश की।' उन्होंने इसके बाद दूसरे ट्वीट में लिखा, 'दरअसल, मैं शर्मिंदा हूं। हमारे विचारों से, हमारी हरकतों से और हमारे शब्दों से।' मीनाक्षी लेखी ने इसका इतना ही करारा जवाब दिया और दीया मिर्जा को टैग करते हुए लिखा- '@deespeak शर्म तो आपको आनी चाहिए, तथ्यों को नहीं समझने या सच को स्वीकार न कर पाने के लिए।' दीया मिर्जा ने इसके जवाब में लिखा, 'मेरा सिर तो शर्म से झुक गया है।' दीया मिर्जा ने लेखी के अलावा और कुछ और लोगों के ट्वीट का भी जवाब दिया। एक यूजर ने उन्हें टैग करते हुए लिखा, 'आप जैसे सिकुलर्स (sickulars) से और कोई उम्मीद भी नहीं की जा सकती है। आपका चरित्र क्या है?' इस पर दीया ने उस यूजर को जवाब दिया, 'मैं चरित्रहीन हूं क्योंकि मैं सेक्युलर हूं।' इस मामले पर दीया का आखिरी ट्वीट था, 'मेरे पिता कैथोलिक थे, मेरी मां बंगाली थीं, मुझे मेरे सौतेले मुस्लिम पिता ने पाला-पोसा और मैंने एक हिंदू से शादी की। मैं भारतीय हूं।' उनके इस ट्वीट को 2.4 हजार लोगों ने रीट्वीट किया और 2.6 हजार लोगों ने पसंद किया।

(IMNB)

Special News

Health News

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Created By :- KT Vision