Latest News

शुक्रवार, 13 फ़रवरी 2015

तोड़ दिया गया मोदी का मंदिर

राजकोट. राजकोट में बने अपने मंदिर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गहरी नाराजगी जतायी थी। इस नाराजगी के बाद गुजरात सरकार के अधिकारियों ने मंदिर को नष्ट कर दिया है। 300 लोगों के एक समूह ने इस मंदिर का निर्माण कराया था। इस ग्रुप में शामिल सारे लोग मोदी के प्रशंसक हैं।
इन्होंने सात लाख रुपए खर्च कर अहमदाबाद से 200 किलोमीटर दूर एक गांव में मंदिर का निर्माण कराया था। मंदिर को रविवार को सार्वजनिक रूप से ओपन करने की तैयारी थी। दो लाख रुपए मोदी की मूर्ति पर खर्च किए गए थे। इससे पहले सुबह पीएम ने ट्वीट कर कहा, 'मैंने अपने नाम पर मंदिर बनाए जाने की खबर देखी है। मैं स्तब्ध हूं। यह अचंभित करने वाला और भारत की महान सांस्कृतिक परंपरा के खिलाफ है।' मोदी ने अपने समर्थकों से मंदिर बनाने के बजाय स्वच्छ भारत अभियान में शामिल होने की अपील की थी। मंदिर में मोदी की मूर्ति बिना कॉलर जैकेट में भगवा पट्टी के साथ थी। पीएम की नाराजगी के बाद मूर्ति को तिरपाल से ढंक दिया गया था। इस प्रॉजेक्ट के ऑर्गेनाइजर रमेश उदहाद ने गुरुवार को कहा, 'हम लोगों ने मंदिर का निर्माण मोदी जी से प्यार और विश्वास के कारण किया था। पीएम की नाराजगी के बाद हमने इस मंदिर में भारत माता की मूर्ति लगाने का फैसला किया है।' सूत्रों के मुताबिक मंदिर के लिए जमीन एक ट्रस्ट ने पांच साल पहले दी थी। पिछले साल आंध्र प्रदेश में कांग्रेस नेताओं ने सोनिया गांधी के लिए एक मंदिर बनाया था। इसी घटनाक्रम में समाजवादी पार्टी नेता आजम खान ने भी समाजवादी पार्टी चीफ मुलायम सिंह का मंदिर बनाने की इच्छा जाहिर की है। 

(IMNB)

Special News

Health News

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Created By :- KT Vision